शर्मनाक हार के बाद बोले कोहली- 'कभी-कभी छोटी गलतियां बड़ी साबित हो जाती हैं'

2017-06-19 10:31:32

पाकिस्तान के खिलाफ 180 रन की करारी हार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने सपाट विकेट पर टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने के अपने निर्णय को सही ठहराया है। विराट ने कहा फखर जमान को मिला जीवनदान हमारे लिए महंगा साबित हुआ। विराट ने कहा, कई बार छोटी गलती बड़ी साबित होती है। लेकिन हम केवल एक मैच हारे हैं। हमें आगे बढ़ते रहना चाहिए और अपनी गल्तियों से सबक लेना चाहिए। पिच का व्यवहार पूरे मैच के दौरान एक जैसा रहा हमनें अपने सबसे मजबूत पक्ष बल्लेबाजी को आधार बनाकर लक्ष्य का पीछा करने का निर्णय किया था।

विराट टीम इंडिया के खिलाड़ियों का बचाव करते हुए कहा,
हम किसी भी टीम को हलके में नहीं ले सकते हैं लेकिन आज वो हमसे ज्यादा जोश और जज्बे के साथ क्रिकेट खेले। हमारे पासे विकेट हासिल करने के कई मौके आए लेकिन हम उन्हें भुना नहीं सके। विराट ने कहा, हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश की। लेकिन वो गेंदबाजी में भी हमसे ज्यादा आक्रामक थे। हार्दिक के अलावा हमारा और कोई बल्लेबाज उनका सामना नहीं कर सका, हार्दिक की पारी शानदार थी। 

इतनी बड़ी हार के बावजूद विराट के चेहरे पर मुस्कान थी, उन्होंने पाकिस्तानी टीम को बधाई देते हुए कहा, मैं पाकिस्तानी टीम को शुभकामनाएं देना चाहूंगा। उनके लिए यह एक बेहतरीन टूर्नामेंट रहा। उन्होंने जिस तरह सभी पहलुओं को अपने पक्ष में किया यह बताता है कि उनके खिलाड़ी कितने प्रतिभाशाली हैं। उन्होंने एक बार फिर यह बात साबित की कि वो अपने दिन किसी भी टीम को धराशाई कर सकते हैं। हमारे लिए ये निराशाजनक है बावजूद इसके मेरे चेहरे पर मुस्कान है क्योंकि हम अच्छा खेले और फाइनल तक पहुंचे।

सरफराज ने गेंदबाजों के सिर बांधा जीत का सेहरा

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने भारत के खिलाफ पहले मैच में हार के बाद टीम की शानदार वापसी की तारीफ करते हुए कहा, मैंने भारत के खिलाफ हार के बाद टीम के सभी साथियों से बातचीत की और उनसे कहा टूर्नामेंट हमारे लिए अभी खत्म नहीं हुआ है। इसके बाद हम अच्छा खेले और आखिर में फाइनल में जीत हासिल कर चैंपियन बने।

फखर जमान की तारीफ करते हुए सरफराज ने कहा, वह बेहतरीन खिलाड़ी है यह उसका पहला आईसीसी टूर्नामेंट है बावजूद इसके वह एक चैंपियन खिलाड़ी की तरह खेला। उसके अंदर पाकिस्तान के लिए एक बड़ा खिलाड़ी बनने की क्षमता है। जीत का सेहरा गेंदबाजों के सिर बांधते हुए सरफराज ने कहा, हमारी सफलता का सारा श्रेय गेंदबाजों को जाता है, मोहम्मद आमिर, हसन अली, शादाब खान, जुनैद खान, मोहम्मद हफीज सभी ने बेहतरीन गेंदबाजी करती थी। 

मिकी आर्थर ने कहा, अब हमारा लक्ष्य 2019 विश्वकप

पाकिस्तान के कोच मिकी आर्थर ने कहा, यह सफर उतार-चढाव भरा रहा। भारत के खिलाफ पहले मैच के बाद हमने शानदार वापसी की। हमें इस बात का अहसास था कि हम बेहतर हैं। टीम के सारे सदस्य ने एकजुट होकर इसपर यकीन किया और आगे बढ़े यह सबसे बेहतरीन था। हम कंसिसटेंट होना चाहते थे। और अब यह जीत एक बेहतरीन उपलब्धि है।

आर्थर ने कहा, हमारा लक्ष्य अब 2019 के विश्वकप हो गया है। हमारी टीम में अच्छे युवा खिलाड़ी हैं और हम सही दिशा में काम कर रहे हैं। फिलहाल सबकुछ ठीक हो रहा है। हम जिस तरह की क्रिकेट खेल रहे हैं  उसी लय को आगे भी बरकरार रखना चाहते हैं। 

2019 के विश्वकप में अभी दो साल बाकी हैं अब हमारी पास पर्याप्त अंक हैं कि हम आसानी से टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई कर लेंगे। हम और कड़ी मेहनत करना चाहते हैं। इसके साथ ही हमें उन खिलाड़ियों को चिन्हित करना होगा जिन्हें हम आगे लेकर चलना चाहते हैं।











amarujala.com

Top 9 Highlights

राजनीति

Subscribe us

खानाखजाना

शिक्षा