भाजपा नेता पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में मिला रंगरलिया मनाता हुआ, बोला भाजपा का संगठन मंत्री हूं

2017-05-17 14:22:04

बरेली/भोपाल. मप्र के बरेली में पुलिस आधी रात को सरकारी रेस्ट हाउस पहुंची तो वहं का नजारा देख चौंक गयी, पुलिस को सूचना मिली थी कि कमरे में संदिग्ध लड़के-लड़कियां रूकी हुई है। जब वहां कुछ लोगों ने वीडियों बनाया तो महिला ने धमकाते हुए कहा कि वीडियो बनाना बन्द करों नही तो हम तुम्हारा फोटो खींच देंगे। 
क्या है पूरा मामला 
सोमवार.मंगलवार की दरमियानी रात बरेली नगर में स्थित लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में उस समय हंगामे की स्थिति बन गई जब कमरा नंबर 2 में रुके हुए कुछ लोगों से पूछताछ करने पुलिस पहुंची। आधी रात को घटी इस घटना का वीडियो भी स्थानीय लोगों ने अपने मोबाइल से बनाया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में रेस्ट हाउस के कमरे में दो महिलाएं और दो व्यक्ति नजर आ रहे हैं। इस वीडियो में महिला वीडियो बनाने वाले व्यक्ति को धमकाती हुई नजर आ रही है। वहीं कमरे में महिला के साथ मौजूद एक लड़का भी है और जो लोगों से बहस करते हुए दिखाई दे रहा है।
एक महिला को पत्नी तो दूसरी को साली बताया
जब इस मामले की पड़ताल के लिये संवाददाता ने पुलिस से जानकारी ली तो पता चला कि वीडियो में दिखने वाला व्यक्ति अपने आपको राहुल मिश्रा बता रहा था और उसके साथ कमरे में मौजूद दोनों को महिलाओं को वह अपना रिश्तेदार बता रहा था एक महिला वह अपनी पत्नी कहा रहा था तो जींस और टॉप में नजर आ रही है उसे साली बता रहा था। कमरे में चौथा व्यक्ति भी मौजूद था जिसे राहुल मिश्रा ने अपना ड्रायवर बता रहा था। 
भाजपा संगठन मंत्री बता कर रुका था राहुल
लोकनिर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में रुकने के लिए कई प्रोटोकाल और नियमों का पालन करना पड़ता है। सरकारी विश्राम ग्रह होने के कारण यहां वीआईपीए सरकारी अधिकारी और विशेष नागरिक ही रुक सकते हैं। इसकी सूचना भी अनुविभागीय अधिकारी या सक्षम अधिकारी के द्वारा रेस्ट हाउस में मौजूद कर्मचारियों को दी जाती है। लेकिन सोमवार की रात में रुकने वाले राहुल मिश्रा नाम के शख्स की ऐसी कोई पहचान अभी तक सामने नही आई है। इस संबंध में पीडब्ल्यूडी एसडीओ परमजीत सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि राहुल मिश्रा खुद को भाजपा में संगठन मंत्री बताकर रेस्ट हाउस में रुका था। उसने यह भी बताया था कि उसके साथ रिश्तेदार भी हैं। साथ ही उसने यह भी बताया था कि वह यहां छींद में हनुमान जी के दर्शन करने के लिए रुकना चाहता है।






newsmailtoday

Top 9 Highlights

राजनीति

Subscribe us

खानाखजाना

शिक्षा