लोकायुक्त ने पंचायत सचिव को रामनिवास को 12 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोचा

2017-07-27 09:51:38

ग्वालियर. प्लेटफॉर्म नम्बर 4 के प्रवेश द्वार पर फरियादी ने पंचायत सचिव को बुला लिया रिश्वत देने के लिये जैसे ही पंचायत सचिव ने रिश्वत हाथ में ली लोकायुक्त टीम द्वारा फैलाये गये जाल  में फंस गया, लोकायुक्त टीम ने पंचायत सचिव को मय रिश्वत के रंगे हाथों गिरफ्तार कर आगामी कार्यवाही के लिये मोतीमहल स्थित लोकायुक्त कार्यालय ले आई ।

क्या है पूरा मामला
प्लेटफॉर्म न. 4 के बाहर छोटी लाईन रेलवे क्रॉसिंग पर फरियादी संतोष रावत ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत राशि 1 लाख 20 हजार रूपये आवंटित की गयी थी और शौचालय निर्माण के लिये 12 हजार और मजदूरी के लिये 18 हजार रूपये की राशि स्वीकृत की गयी थी संतोष रावत कार्यालय के चक्कर लगाकर परेशान हो गया था, इसके बाद संतोष रावत ने लोकायुक्त एसपी अमित सिंह से शिकायत की, यह राशि फरियादी को संतोष रावत निवासी गौरागांव  को आवंटित करने के लिये पंचायत सचिव रामनिवास जाटव ने 15 हजार रूपये की डिमांड की थी जो बातचीत से 12 हजार रूपये में तय हो गया । लोकायुक्त टीम ने रणनीति बनाने के बाद फरियादी के तय स्थान पर आरोपी रामनिवास जाटव को बुलाकर रिश्वत के 12 रूपये देने के बाद लोकायुक्त टीम नें रंगें हाथों गिरफ्तार कर लिया।

लोकायुक्त टीम ने दबोचा आरोपी को
प्लेटफॉर्म नम्बर 4 के प्रवेश द्वार पर फरियादी ने पंचायत सचिव रामनिवास जाटव को जैसे ही 12 हजार रूपये दिये वैसे ही टीम ने तत्काल दबोच लिया, लोकायुक्त एसपी अमित सिंह के आदेश पर इंस्पेक्टर कवीन्द्र सिंह चौहान (विवेचक) राजीव गुप्ता, हैड कान्स्टेवल धनंजय पांडे, आरक्षक विशम्भर भदौरिया, अंकित शर्मा ने कार्यवाही को अंजाम दिया।









newsmailtoday.com

Top 9 Highlights

राजनीति

Subscribe us

खानाखजाना

शिक्षा